उप स्वास्थ्य केंद्र पथर्रा के आश्रित ग्राम कान्हाभैरा को मिला राष्ट्रीय बाल मित्र पुरस्कार

कलेक्टर का स्वास्थ्य परीक्षण करते हुए स्वास्थ्य कार्यकर्ता एवम सरपंच कांहाभैरा

कवर्धा। राष्ट्रीय पंचायत पुरस्कार 2020 के तहत राज्य से कबीरधाम जिले के विकासखण्ड कवर्धा के ग्राम पंचायत कान्हाभैरा का चयन बाल मित्र पुरस्कार (चाइल्ड फ्रेन्डली अवार्ड) के लिए केंद्र सरकार द्वारा किया गया है। छत्तीसगढ़ राज्य से यह पुरस्कार प्राप्त करने वाला ग्राम पंचायत कान्हाभैरा एकमात्र ग्राम पंचायत है। स्वास्थ्य, शिक्षा, पोषण, बेहतर वातारण, स्वच्छता एवं दस्तावेजीकरण के आधार पर केंद्र सरकार द्वारा यह पुरस्कार ग्राम पंचायत को दिया जाएगा।

वही स्वास्थ्य के क्षेत्र में उप स्वास्थ्य केंद्र पथर्रा में पदस्थ ग्रामीण स्वास्थ्य संयोजक श्री राकेश कुमार चन्द्रसेन और श्रीमती बी. साहू द्वारा सत प्रतिशत टीकाकरण ,संस्थागत प्रसव , स्वास्थ्य शिक्षा , स्कूल हेल्थ चेक अप ,परिवार कल्याण सेवाएं जैसे – महिला नसबंदी,पुरुष नसबंदी,कॉपर टी, ओरल पिल, अंतरा इंजेक्शन,मातृ एवं शिशु स्वास्थ्य – प्रसव पूर्व देखभाल, प्रसवकालीन एवं प्रसवपश्चात देखभाल , शिशु टीकाकरण कार्य एवं संचारी, गैर-संचारी तथा अन्‍य सामान्‍य व गम्‍भीर रोगों की रोकथाम, नियन्‍त्रण व उन्‍मूलन हेतु उपचारात्‍मक, निरोधात्‍मक तथा प्रोत्‍साहक उपायों के रूप में निरन्‍तर सेवाऍं प्रदान कर रहा है।

केंद्र में क्षय रोग, मलेरिया, अन्‍धता, एड्स आदि रोगों पर नियन्‍त्रण तथा कुष्‍ठ रोग के उन्‍मूलन हेतु राष्‍टीय कार्यक्रम भी इनके द्वारा संचालित किये जा रहे है।

स्वास्थ्य से लेकर सभी स्तर के स्कूलों के लिए ग्राम पंचायत को यह पुरस्कार आठ श्रेणियों में किये गए बेहतर कार्य के आधार पर मिला है। बच्चों का टीकाकरण, स्कूलों में बच्चों का पंजीयन और उनकी प्रतिदिन उपस्थिति, स्कूलों में शिक्षकों की उपस्थित, शाला त्यागी बधाों का कम होना, ग्राम पंचायत का खुले में शौचमुक्त होना, बधाों एवं ग्राम में स्वच्छता के प्रति जागरूकता, स्कूलों में मध्यान भोजन वितरण तथा बच्चो में पोषण जैसें महत्वपूर्ण कारकों को सत्प्रतिशत पूर्ण करने के कारण ग्राम पंचायत कान्हाभैरा को यह पुरस्कार मिला है।

आप हमें फ़ेसबुकट्विटरटेलीग्राम और व्हाट्सप्प पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.