बंजर जमीन को उपयोगी बनाकर महिलाओं ने शुरू की खेती-बाड़ी, सब्जियों की उत्पादन होने से महिलाओं में बढ़ा हौसला

लाॅकआउट में सरकार की सुराजी गांव योजना से मिली महिलाओं को रोजगार अब आमदनी भी शुरू

कवर्धा, 21 अप्रैल 2020। कबीरधाम जिले के ग्राम पंचायत राजानवागांव सुराजी गांव की परिकल्पना को साकार करते हुए आगे बढ़ रहा है। कोरोना वायरस के रोकथाम और उनके नियंत्रण के लिए जारी लाॅकडाउन की इस विकट परिस्थति में महिला स्वसहायता समूह से जुड़ी महिलाओं के लिए छत्तीसगढ़ शासन की सुराजी गांव योजना की बाड़ी विकास ने जीवन को नई राह दिखाई है। महिला समूह की इस बाड़ी से अब हरी सब्जी का उत्पादन शुरू हो गया है। लाॅकडाउन के दौरान महिला समूह ने सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए जैविक खेती कर रही है। इस खेती से उन्हे पहले रोजगार मिला अब आमदानी का हरी सब्जियों के उत्पादन होने सेे लाभ मिलना भी शुरू हो गया है।
जिला प्रशासन द्वारा राज्य सरकार की ग्रामीण अर्थ व्यवस्था को मजबूत करने वाली सुराजी गांव योजना से राजानांवगांव के आसपास के पांच अलग-अलग समूह को जोड़ा गया। इन सभी समूह को जैविक खेती करने के लिए प्रेरित किया गया और उन्हे मल्टीयुटीलिटी सेन्टर से प्रशिक्षण भी दिए गए। प्रशिक्षण मिलने के बाद समूह की महिलाओं को उनके जीवन स्तर को नई दिशा और रोजगार देने के लिए अनुउपयोगी खाली जमीन को उन्हे दिया गया। पांच अलग-अलग महिला स्वसहायता समूह की सदस्यों ने जिला प्रशासन की मदद से अपनी दिन-रात की कड़ी मेहनत कर पांच एकड़ खाली बंजर जमीन को खेती जमीन के लिए तैयार किया। इस खेती भूमि में अब सभी महिलाओं ने पांच अलग-अलग प्रकार की सब्जियों का रोपड़ भी किया। कबीरधाम जिले की इस अभिनव पहल से पांच महिला स्वसहायता समूहों की सौकड़ों महिलाओं को प्रत्यक्ष रोजगार मिल रहा है। श्री साईराम महिला स्वसहयता समूह की अध्यक्ष द्रोपति मानिकपुरी, राधारानी समूह अध्यक्ष श्रीमती लक्ष्मी राव, भारत माता स्व सहायता समूह की अध्यक्ष सुश्री सुनिता श्रीवास,मां दुर्गा समूह अध्यक्ष सुश्री राजबाई पटेल और कुकमुम भाग्य समूह अध्यक्ष श्रीमती पार्वती धुर्वे ने मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल और कवर्धा विधायक श्री मोहम्मद अकबर के प्रति आभार व्यक्त किया है।

कवर्धा जिला मुख्यालय से लगभग आठ किलोमीटर दूरी पर स्थित है इस जिले का समृद्ध पंचायत राजानवागांव। यह ग्राम पंचायत जिले के आदिवासी बैगा बाहूल बोडला जनपद पंचायत के अंतर्गत आता है। इस गांव में ग्रामीण अर्थव्यवस्था को मजबूत बनाने के लिए करोड़ों रूपए की लागत मल्टीयूटिलिटी केन्द्र का निर्माण किया गया है। इस केन्द्र में महिला सशक्तिकरण को आगे बढ़ाने के लिए हर संभव प्रयास किए जा रहे है। महिलाएं सम्मान के साथ अपनी आमदानी बढ़ा सके इसके लिए उन्हे अजीविका मिशन से जोड़ा भी जा रहा है। इस केन्द्र के आसपास लगभग 9 एकड़ के करीब बंजर भूमि थी। महिलाओं को सशक्ति करण की दिशा में जोड़ने का प्रयास इस ग्राउंड स्तर से शुरू किया गया।
महिलाओ को हर संभव मदद के लिए पंचायत एंव ग्रमीण विकास कृषि, उद्यानिकी, मत्स्य पालन विभाग,सहित केडा विभाग ने पूरा सहयोग भी किया। महिला समूहों ने इस अनुउपयोगी जमीन को खेती के लिए तैयार कर भिड़ी,करेला, बरबट्ी, ककड़ी, सीखा और लौकी की खेती कर रही है। साथ ही मनेरगा के तहत एक तालाब का भी निर्माण किया गया है। यह तालाब इस लिए तैयार किया गया है,ताकि महिला समूहों के मछली पालन व्यवसाय से जोड़ा जा सके। साथ ही मृदा नमी के लिए यह तालाब उपयोगी साबित होगा।

कलेक्टर ने महिला समूह की मेहनत की तारीफ की

कलेक्टर श्री अवनीश कुमार शरण ने राजानवांगाव में मल्टीयुटीलिटी प्रशिक्षण केन्द्र से बिहान योजनांतर्गत जुड़ी सभी महिला समुहों की कार्यकुशला,उनकी कठिन परिश्रम और लगन की तारीफ की हैं। उन्होने महिला समुहों को भरोसा दिलाते हुए कहा कि राज्य शासन की ग्रामीण अर्थव्यवस्था से जुड़कर सभी समूहों का आत्मनिर्भर की दिशा में आगे बढ़ाने का भरपूर प्रयास किया जाएगा। छत्तीसगढ़ शासन की जनकल्याणकारी और हितग्रहीमूलक योजनाओे से जोड़कन उनकी दशा और दिशा बदलने की पूरजोर कोशिश जारी रहेगी।

समूह की महिलाओं की मिली नई राह

मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत कबीरधाम श्री विजय दयाराम के. ने बताया कि महिला सशक्तिकरण के साथ आत्मनिर्भर बनानें कि दिशा में मल्टीयुटीलिटी सेन्टर राजानवागांव कारगर सिद्ध हो रहा है। राज्य सरकार कि मंशा अनुरूप सेन्टर का विकास कर क्षेत्र के ग्रामीणों को इसके साथ जोड़ा जा रहा है। कृषि विभाग, उद्यानिकी विभाग, पशुपालन विभाग एवं पंचायत ग्रामीण विकास विभाग मिलकर कार्य कर रहे है। समूह की बाड़ी से सब्जियों का उत्पादन शुरू होने से महिलाओ में आत्मविश्वास बढ़ा है। महिला समूह को जीवन जीने की नई राह मिल रही है।

साभार : जनसंपर्क जिला कबीरधाम

आप हमें फ़ेसबुकट्विटरटेलीग्राम और व्हाट्सप्प पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.