डकैती का मुख्य आरोपी 7 महीने बाद पकड़ाया, डकैती करने के बाद भाग गए थे दिल्ली

रायपुर। रायपुर में देवेंद्र नगर थाना के पंडरी स्थित छितिज अपार्टमेंट में फरवरी में हुई 50 लाख की डकैती मामले में पुलिस ने मुख्य आरोपी को गिरफ्तार कर लिए है, हालांकि पुलिस को आरोपी को पकड़ने में 7 महीने बाद मिली है, जो भी सराहनीय है, क्योँकि आज भी कई मामलों में आरोपी फरार हैं। इस मामले में पुलिस ने 24 घंटे के भीतर ही ट्रेन से दिल्ली भाग रहे पांच आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया था। डकैती का मास्टरमाइंट घर का पुराना कर्मचारी मालचंद शर्मा फरार चल रहा था। जिसे राजस्थान के बिकानेर से गिरफ्तार किया गया है। इसी ने बीकानेर के प्रोफेसनल डकैतो के साथ मिलकर वारदात को अंजाम दिया था।

पुलिस के मुताबिक 13 फरवरी की रात देवेंद्र नगर स्थित बजरंग शर्मा के मकान में 50 लाख की लूट हुई थी। आरोपियों ने पीड़ित से मारपीट कर लाॅकर खोलकर उसमें से 50 लाख रुपये अपने बैग में भरकर ले गये थे। उनके मोबाइल को फ्रिज में रख दिए। शिकायत के बाद पुलिस ने देवेन्द्र नगर थाने में धारा 394 भादवि के तहत अपराध दर्ज किया था।

इससे पहले पुलिस ने मामले में आरोपी अशोक जाखड़ (30 वर्ष), प्रेम जाट (22 वर्ष), जय किशन गोदारा (20 वर्ष), गणेश जाट (22 वर्ष) और भवर चौधरी (20 वर्ष) को गिरफ्तार किया था. ये पांचों मर्डर के मामले में जेल जा चुके है. सभी बीकानेर के रहने वाले हैं। पुलिस ने इनके पास से 49 लाख 10 हजार रुपए रिकवरी किया था।

बता दें कि पांचों आरोपी की गिरफ्तारी के बाद डीजीपी डीएम अवस्थी ने मामले को डिटेक्ट करने वाले टीम को 1 लाख रुपए, आईजी आनंद छाबड़ा ने 30 हजार और तत्कालीन एसएसपी आरिफ शेख ने 10 हजार रुपए का इनाम दिया था।

आप हमें फ़ेसबुकट्विटरटेलीग्राम और व्हाट्सप्प पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.