प्रवासी श्रमिकों को उनकी दक्षता के अनुरूप रोजगार से जोड़ने बनेगी कार्ययोजना


कबीरधाम कलेक्टर ने मनरेगा के कार्यों की समीक्षा करते हुए अधिकारियों के दिए आवश्यक दिशा-निर्देश

महात्मा गांधी नरेगा के कार्यो को गुणवत्ता के साथ समय पर पूर्ण करें – कलेक्टर

कवर्धा, 13 जून 2020। कबीरधाम जिले में लाॅकडाउन के दौरान अलग-अलग राज्यों से लौटे प्रवासी कुशल श्रमिकों उनके रूचि के अनुरूप अजीविका से जोड़ने के लिए कार्य योजना बनाई जाएगी। कलेक्टर श्री रमेश कुमार शर्मा ने मनरेगा के कार्यो की समीक्षा करते हुए कहा कि प्रवासी श्रमिकों को रोजगार उपलब्ध कराने के लिए राज्य सरकार की प्राथमिकता में शामिल है। प्रवासी मजदूरों को रोजगार देने के उदेश्य से लक्ष्य रखा गया कि प्रवासी मजदूरों को उनके कार्य की योग्यता के आधार पर कार्यो में लगाया जाए। भवन आदि निर्माण कार्य में कुशल श्रमिकों को रोजगार गारंटी योजना से बनने वाले सभी प्रकार के भवनों के साथ बकरीपालन शेड, मूर्गी पालन शेड, पशुपालन शेड के कार्यो से भी रोजगार के अवसर दिए जाए। सभी मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायतों को निर्देशित किया गया कि व्यापक तौर पर प्रवासी मजदूरों का संपूर्ण जानकारी तैयार करे जिससे की आजीविका काॅलेज में संचालित होने वाले पीएम कौशल विकास योजना अंतर्गत उन्हें उनके रूची अनुसार प्रशिक्षित किया जा सकें। जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी एवं कार्यक्रम अधिकारियों को मनरेगा के तहत चल रहें कार्यो का सतत निरीक्षण करने के निर्देश दिए।

कलेक्टर श्री शर्मा ने मनरेगा के अंतर्गत कार्यो को गुणवत्ता के साथ करते हुए समय सीमा में मजदूरी भुगतान करने पर जोर दिया। शासन एवं जिला स्तर में निर्धारित लक्ष्यों के अनुसार सभी हितग्राही एवं सामुदायिक मुलक कार्यो को पूर्ण करने के निर्देश दिये गए। कलेक्टर श्री रमेश कुमार शर्मा ने बैठक में कार्यो कि समीक्षा करते हुए कहा कि किसी भी कार्यो में फर्जी मस्टररोल अथवा अनियमित्ता की शिकायते प्राप्त नही होनी चाहिए अन्यथा दोषियों के विरूद्ध कड़ी कार्यवाही करने की चेतावनी दी है।

ज्ञात हो की नव नियुक्त कलेक्टर श्री रमेश कुमार शर्मा द्वारा पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग की पहली समीक्षा बैठक थी, जिसमें जिले के मैदानी अमलों को शासन के दिशा निर्देश अनुसार कार्य करने के लिए निर्देशित किया गया। आगामी वर्षा ऋतु को ध्यान में रखते हुए नए कार्य की पहचान करने की बात की गई। वृक्षारोपण के लिए स्थल का चयन करने के निर्देश भी दिये गए।

जिला पंचायत के मुख्यकार्यपालन अधिकारी श्री विजय दयाराम के ने मनरेगा के कार्यों की समीक्षा करते हुए जिले में बनाए गए सभी गौठानों में चारा, पानी, छाये की व्यवस्था अनिवार्य रूप से उपलब्ध हो इसके लिए सभी जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी को निर्देश दिए गए। दूसरे चरण में बनने वाले सभी 152 गौठानों को स्वीकृति कें आधार पर यथाशीघ्र पूरा कराने के निर्देश दिए गए। कोरोना महामारी से बचाव हेतु सोशल डिस्टेंस के साथ सभी कर्मचारी मास्क लगाकर जिला पंचायत के सभा कक्ष की बैठक में उपस्थित रहे। बैठक से अनुपस्थित तकनिकी सहायकों के एक दिन का वेतन काटने का निर्देश संबंधित अधिकारी को दिये गये। मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत कबीरधाम श्री विजय दयाराम के. ने गौठान निर्माण कार्य मे समीक्षा दौरान पाया कि विकासखण्ड पंडरिया के ग्राम कामठी का कार्य संतोषप्रद नहीं होने से अनुविभागीय अधिकारी ग्रामीण यांत्रिकी सेवा एवं संबंधित तकनिकी सहायक को कारण बताओं नोटिस जारी करने के निर्देश दिए गए। जनपद पंचायत बोड़ला के अंतर्गत द्वितीय चरण में बनाये जा रहें सभी गौठानों को तत्काल प्रारंभ करने के निर्देश दिये गए। सभी निर्माणाधीन गौठान को 20 जून तक पूर्ण करने की बात कही गई। गौठान की प्रगति सही नही होने पर मैदानी कर्मचारियों को कड़ी फटकार लगाई गई।

महात्मा गांधी नरेगा अंतर्गत हितग्राहियों के लिए कराये जा रहे निजि डबरी निर्माण, कूप निर्माण , बकरी पालन शेड निर्माण जैसे कार्यो कि भी समीक्षा की गई। वर्तमान में कार्यरत सभी मजदूरों का भुगतान समय सीमा में कराये जाने के निर्देश जनपद पंचायत को दिये गए। नया आंगनबाड़ी भवन, पंचायत भवन, भारत निर्माण राजीव गांधी सेवा केन्द्र के कार्यो की समीक्षा करते हुए कहा गया की गुणवत्ता का विशेष ध्यान रखा जाए। श्री विजय दयाराम के. ने मनरेगा अंतर्गत कार्यरत मैदानी अमलों की तारिफ करते हुए कहा की विगत माह से रोजगार गारंटी योजना अंतर्गत जिले में बेहतर कार्य हुए है जिसमें प्रतिदिन औसत 1.45 लाख मजदूर कार्य कर रहें है। पंजीकृत मजदूरों को अधिक से अधिक रोजगार देने में कबीरधाम जिला प्रदेश में बड़े जिले से बेहतर स्थान पर रहा है और लगातार चैथे पाचवें पर बना हुआ है। बैठक में कार्यपालन अभियंता ग्रामीण यांत्रिक सेवा, सभी मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत, सभी अनुविभागीय अधिकारी ग्रामीण यांत्रिक सेवा के साथ मैदानी कर्मचारी एवं विभागीय अधिकारी उपस्थित रहे।

आप हमें फ़ेसबुकट्विटरटेलीग्राम और व्हाट्सप्प पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.