BIG BREAKING : कवर्धा शहर में कोरोना के चलते बढ़ी LOCKDOWN की आहट, हो सकता है पूर्ण तालाबंदी

कोरोना वायरस के संक्रमण के रोकथाम के लिए कवर्धा संपूर्ण लॉकडाउन पर हो सकता है विचार

कलेक्टर ने कोरोना रोकथाम के लिए व्यापारी प्रतिनिधि की बैठक लेकर मांगे सुझाव

कटेन्मेन्ट जोन घोषित क्षेत्र के लिए आदेश का पालन करना अनिवार्य

व्यवसायिक प्रतिष्ठानो में हैंड सेनेटाइजर अवश्य रखें, संचालक, कर्मचारी और ग्राहक को मास्क, रुमाल व गमछे से मुंह को ढके

कवर्धा,29 अगस्त 2020। कोविड-19 कोरोना वायरस के रोकथाम एवं नियंत्रण तथा उनके बढ़ते संक्रमण के बचाव के उपायों को विशेष ध्यान में रखते हुए कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी श्री रमेश कुमार शर्मा ने आज शनिवार को कवर्धा शहर के व्यापारी संगठनों के प्रतिनिधियों की बैठक ली। बैठक में अपर कलेक्टर श्री जे.के. धु्रव, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री अनिल सोनी, एसडीएम श्री विपुल गुप्ता, सीएमो श्री लवकुश सिंगरौल विशेष रूप से उपस्थित थे।

कलेक्टर श्री रमेश कुमार शर्मा ने जिले में कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण और उनके रोकथाम के लिए व्यापारियों से सुझाव मांगते हुए आवश्यक दिशा निर्देश भी दिए। उन्होंने कहा है कि जिले में कोरोना वायरस के संक्रमण के रोकथाम के लिए और कोरोना वायरस से संक्रमित व्यक्तियों की पहचान के लिए बड़े पैमाने पर नियमित रूप से जिला सर्विलेंस की टीम के द्वारा स्वास्थ्य परीक्षण और सैंपल लिए जा रहे है। भारत सरकार और राज्य शासन के दिशा निर्देशों के अनुरूप कोविड-19 से संक्रमित पाए जाने पर संबंधित क्षेत्रों को कटेन्मेन्ट जोन घोषित कर उनके बढ़ते संक्रमण को रोकने के प्रयास किए जा रहे है। कटेन्मेन्ट जोन घोषित क्षेत्र के लिए जारी आदेशों का पालन करना अनिवार्य है। पालन नहीं करने पर संबंधित व्यक्तियों, प्रतिष्ठानों के विरूद्व कठोरता से कार्यवाही की जाएगी।

कलेक्टर श्री शर्मा ने व्यापारियों संगठन के प्रतिनिधियों को निर्देशित करते हुए कहा है कि शहर में जिस गति से कोरोना संक्रमण बढ़ते जा रहे है अगर ऐसी स्थिति रही तो संपूर्ण कवर्धा शहर को लॉकडाउन करने पर भी विचार किया जा सकता है। उन्होंने व्यापारियों से संपूर्ण लॉकडाउन के संबंध में सुझाव भी मांगे और सभी व्यापारी संगठनों की बैठक लेकर एक सकारात्मक निर्णय लेने के निर्देश भी दिए। उन्होंने व्यापारियों से यह भी निर्देशित किया कि स्थित एवं परिस्थिति के अनुसार होम डिलिवरी को अधिक प्राथमिकता दें।

कलेक्टर शर्मा ने शहर के सभी छोटे बड़े सभी व्यपारिक प्रतिष्ठानों के संचालकों से यह भी अपील करते हुए कहा कि कोरोना वायरस को हराने के लिए सब को शारीरिक दुरी का पालन करने हुए सामुहिक प्रयास करना होगा। सभी व्यापारिक प्रतिष्ठान अपने दुकानों पर हैण्ड सेनेटाइजर अवश्य रखें। दुकानदार वहाँ काम करने वाले कर्मचारी अनिवार्य रूप से मास्क का उपयोग करें। दुकाने में आने वाले सभी व्यक्तियों का हैण्ड सेनेटाईजर का उपयोग कराकर मास्क लगाते हुए अपने प्रतिष्ठान में आने के लिए कहे। वहां भी शारीरिक दूरी का पालन करना सुनिश्चित करें। व्यासायिक प्रतिष्ठानों के सामने अनावश्यक रूप से भीड़ एकत्रित न होने दे। दुकानों के अंदर सोशल डिस्टेंसिग का पालन करते हुए क्षमता से अधिक व्यक्तियों के प्रवेश की अनुमति न दे। अनावश्यक रूप से शहरों पर न घूमे। कलेक्टर श्री शर्मा शहर वासियों से अपील करते हुए कहा कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए मास्क जरूरत लगाए। अगर मास्क नहीं है तो ग्रामीण अंचलों में उपयोग करने वाले गमछा या रूमाल का उपयोग कर सकते है। उन्होने यह भी कहा कि सार्वजनिक स्थलों से आने से बचना चाहिए। अगर बहुत ही जरूरी है तो मास्क जरूर लगाना चाहिए। बाजार या अन्य किसी सार्वजनिक स्थान से आने के बाद अपने हाथों को साबुन से अच्छी तरह धोना चाहिए।

आप हमें फ़ेसबुकट्विटरटेलीग्राम और व्हाट्सप्प पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.