बड़ी खबर : चक्रवाती घेरे का असर, छत्तीसगढ़ में 11 से 12 जून के बीच हो सकती है भारी बारिश!


प्रदेश में मानसून 11 से 12 जून के बीच सक्रिय हो सकता है। बंगाल की खाड़ी में बने ऊपरी हवा के चक्रीय चक्रवात के कारण मानसून जल्दी ही छत्तीसगढ़ में दस्तक दे सकता है। वहीं प्रदेश में 11 और 12 जून को राज्य के कुछ इलाकों में भारी बारिश हो सकती है।

मौसम वैज्ञानिक के मुताबिक एक चक्रीय चक्रवाती घेरा पूर्वी उत्तर प्रदेश और उसके आसपास 0.9 किलोमीटर ऊंचाई तक स्थित है। एक चक्रीय चक्रवाती घेरा पूर्व मध्य बंगाल की खाड़ी और उसके आसपास मध्य ट्रोपोस्फेयर तक स्थित है। इसके प्रभाव से एक निम्न दाब का क्षेत्र पूर्व मध्य बंगाल की खाड़ी में बन सकता है। यह पश्चिम उत्तर पश्चिम दिशा में आगे बढ़ते हुए प्रबल हो सकता है। इससे छत्तीसगढ़ में बारिश में भारी बारिश की संभावना जताई जा रही है।

यहां होगी बारिश
बंगाल की खाड़ी में बने ऊपरी हवा के चक्रीय चक्रवात के कारण छत्तीसगढ़ के कुछ जिलों में भारी बारिश की संभावना है। इसके अलावा मध्य प्रदेश, पश्चिम बंगाल, सिक्किम, कर्नाटक और तेलंगाना के कुछ हिस्सों में भी हल्की बारिश के आसार हैं।

अभी यहां है मानसून की सीमा
मानसून की उत्तरी सीमा कारवार शिमोगा, तुमाकुरु, चित्तूर और चेन्नई तक है। इसके आगे बढ़ने के लिए अनुकूल स्थिति बना हुआ है जो मध्य अरब सागर, गोवा, कोंकण के कुछ भाग, कर्नाटक के कुछ और भाग, रायलसीमा, तमिलनाडु के बचे हुए हिस्से, तटीय आंध्र प्रदेश के कुछ हिस्से, मध्य और उत्तर बंगाल की खाड़ी के कुछ और भाग तथा उत्तर पूर्व बंगाल की खाड़ी के कुछ भाग में अगले दो से तीन दिन में पहुंचने की संभावना है।

विभाग के मुताबिक दक्षिण-पश्चिम और पश्चिम-मध्य अरब सागर के ऊपर, पूर्व मध्य बंगाल की खाड़ी और छत्तीसगढ़ के कुछ क्षेत्रों में आज तेज हवाएं चलने की संभावना है।

आप हमें फ़ेसबुकट्विटरटेलीग्राम और व्हाट्सप्प पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.