कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामले को लेकर CM हुए गंभीर, खुद कर रहे निगरानी

इस दौरान उन्होंने क्वारेंटिन सेंटर्स (Quarantine centers) की व्यवस्था और अस्पतालों में उपलब्ध बिस्तरों की जानकारी ली.



रायपुर. 
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल (Bhupesh Baghel) कोरोना वायरस के संक्रमण को लेकर काफी गंभीर हो गये हैं. मुख्यमंत्री की इस गंभीरता के पीछे की वजह प्रदेश में कोरोना संक्रमण (Corona Infection) के मामले को लगातार बढ़ना है. इसी लिए मुख्यमंत्री लगातार वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग और अन्य माध्यमों से सीधे निगरानी कर रहे हैं. मंगलवार को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने अपने आवास पर वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग (Video Conferencing) के जरिए कोरोना संक्रमण से बचाव, उसके नियंत्रण के उपाय और मरीजों के इलाज की व्यवस्थाओं की समीक्षा की. साथ ही मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आगे की रणनीति पर विचार-विमर्श किया.

इस दौरान उन्होंने क्वारेंटिन सेंटर्स (Quarantine centers) की व्यवस्था और अस्पतालों में उपलब्ध बिस्तरों की जानकारी ली.  मुख्यमंत्री ने कहा कि इस बात का विशेष ध्यान रखा जाए कि संक्रमित व्यक्ति से अस्पताल आने वाले अन्य मरीजों में संक्रमण नहीं फैले. चिकित्सक और मेडिकल स्टाफ के लोग संक्रमण से बचाव के लिए गाइडलाइन का पालन करें. बघेल ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से एम्स रायपुर के निदेशक और बिलासपुर सिम्स के अधिकारियों से भी वहां की व्यवस्थाओं और आगे की रणनीति पर चर्चा की.

21 हजार 230 बिस्तर उपलब्ध कराने की व्यवस्था की जा रही है

बैठक में अधिकारियों ने बताया कि जिलों में 14 कोविड-19 केयर सेंटरों और कोविड के मरीजों के लिए 21 हजार 230 बिस्तर उपलब्ध कराने की व्यवस्था की जा रही है. स्वास्थ्य सचिव निहारिका बारिक सिंह ने मुख्यमंत्री को विभिन्न अस्पतालों में उपचार की व्यवस्था के बारे में विस्तार से जानकारी दी. इस दौरान मुख्यमंत्री के अपर मुख्य सचिव सुब्रत साहू ने सभी मेडिकल कॉलेजों को जरूरी सावधानी बरतने और इलाज के लिए आने वाले गंभीर मरीजों का गंभीरतापूर्वक उपचार करने के निर्देश दिए. उन्होंने इलाज और देखभाल के दौरान व्यक्तिगत सुरक्षा उपायों को अपनाने और सभी को इनका अनिवार्यतः पालन करने के निर्देश दिए.

आप हमें फ़ेसबुकट्विटरटेलीग्राम और व्हाट्सप्प पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.