महाराष्ट्र से आई सूचना से छत्तीसगढ़ में मचा हड़कंप, आधी रात कोरोना पॉजिटिव के प्राइमरी कांटेक्ट में आए युवक को खोजने निकली टीम


दुर्ग
. महाराष्ट्र कंट्रोल रूम से मिली सूचना ने स्वास्थ्य विभाग में एक बार फिर खलबली मचा दी। शनिवार को देर शाम मैसेज में बताया गया कि शनिवार को एक व्यक्ति का आरटीपीसीआर टेस्ट रिपोर्ट पॉजिटिव आया है। उसका प्राइमरी कांटेक्ट वाला व्यक्ति भिलाई का है। इस सूचना के बाद स्वास्थ्य विभाग में हलचल शुरू हो गई। देर शाम दो अलग-अलग टीम तैयार कर उस व्यक्ति की तलाश में भिलाई रवाना किया गया। मिलने पर उसे व्यक्ति को क्वारंटाइन किया जाएगा। संबंधित थाना खुर्सीपार को भी इसकी सूचना दी गई। टीम को सबसे पहले थाना पहुंचने और फिर पुलिस बल के साथ संबंधित व्यक्ति को तलाश करने के लिए कहा गया।

रखा जाएगा क्वारंटाइन सेंटर में
बताया जा रहा है कि वह व्यक्ति कुछ दिन पहले महाराष्ट्र से आया है और बालाजी नगर खुर्सीपार में रह रहा है। वह ट्रांसपोर्ट लाइन से जुड़ा हुआ है। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों का कहना है कि प्राइमरी कांटेक्ट में आने वाले व्यक्ति को चिन्हित कर एहतियात के तौर पर उसे क्वारंटाइन सेंटर में रखा जाएगा और जांच की जाएगी। स्वास्थ्य विभाग ने व्यक्ति की तलाश के लिए अलग-अलग दो टीम रवाना किया है। उल्लेखनीय है कि दुर्ग स्थित मैरी गोल्ड क्वारंटाइन सेंटर में 58 लोग है। दूसरी मर्तबा शनिवार को सभी का फिर से सैंपल लिया गया है।

एम्स से एक मरीज स्वस्थ होकर पहुंचा क्वारंटाइन सेंटर
दुर्ग जिले से एम्स में उपचार के लिए भेजे गए पॉजिटिव मरीज में से एक को शनिवार को छुट्टी दे दी गई। एहतियात के तौर पर उसे भी क्वारंटाइन सेंटर में रखा गया है। एम्स से ठीक होकर आए 6 अन्य को भी क्वारंटाइन सेंटर में रखा गया है। अब ऐसे व्यक्तियों की संख्या 7 हो गई है। चिकित्सा अधिकारियों का कहना है कि गाइड लाइन के हिसाब से दो बार और स्वाब सैंपल लिया जाएगा। रिपोर्ट निगेटिव आने पर ही उन्हें घर जाने की अनुमति दी जाएगी।

सैंपल के टार्गेट में कटौती
शासन ने एक बार फिर सैंपल क लेक्ट करने के गाइड लाइन में कटौती की है। पूर्व में सैंपल लेने का टार्गेट 200 था। शनिवार क ो आए गाइड लाइन में नया टार्गेट 110 रखा गया है। हालांकि आज की स्थिति में आरटीपीसीआर किट से सैंपल नहीं लिया गया है।

आप हमें फ़ेसबुकट्विटरटेलीग्राम और व्हाट्सप्प पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.