ना कोई सोशल डिसटेंस ना कोई कोरोना, देश में तो जैसे कुछ हुआ ही नही, प्राइवट तो छोड़िए साहब सरकारी जगहों पर उड़ रही है नियमों कि धज्जियाँ

सांकेतिक चित्र 

वैश्विक महामारी कोरोना ने पूरे विश्व में कोहराम मचा के रखा है वही देश में अलग अलग राज्यों में सरकार द्वारा सुरक्षा और बचाव के लिए लाखों रुपय फूंक दिए गये है. इसके बाद भी लोगों के बीच जागरूकता का अभाव है खैर ये छोड़िए साहब सरकार द्वारा लॉक डाउन में सोशल डिसटेंस का पालन करने और करवाने की जवाबदारी समस्त व्यवसायियों, बैंक, भिड़ वाले जगहों में सख़्ती से करवाने की है. लेकिन मुंगेली के ग्रामीण बैंक में एसा कुछ देखने को मिला ही नहि है. बड़े संख्या में दूर दूर से ग्रामीण अपने पैसे निकलने जमा करने आ रहे है जिससे बैंक में भिड़ को देख कर एसा लग रहा है मानो कुछ हुआ ही नहि है.

मुंगेली से द भारत लाइव : सुभाष शर्मा / अमन नामदेव

देखे विडियो:

 

आप हमें फ़ेसबुकट्विटरटेलीग्राम और व्हाट्सप्प पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.