अब गरीब बच्चे भी अंग्रेजी माध्यम स्कूल में पढ़ सकेंगे,भूपेश बघेल अंग्रेजी माध्यम स्कूल खोलने का लिया फैसला


रायपुर।
गरीब बच्चे जो कि अंग्रेजी माध्यम स्कूलों के फीस देने में असहाय होने के कारण अंग्रेजी माध्यम मे शिक्षा नहीं ग्रहण कर पाते थे उन्हें अब छत्तीसगढ़ सरकार के द्वारा अंग्रेजी माध्यम स्कूल खोलकर सुनहरा अवसर प्रदान किया है।

प्रदेश प्रवक्ता वंदना राजपूत ने कहा है कि हर मां बाप का सपना होता है कि उनके बच्चे भी अंग्रेजी माध्यम में पढ़ाई करे लेकिन अंग्रेजी माध्यम के पढ़ाई महंगा होने के कारण वे अपने बच्चों को अंग्रेजी माध्यम में पढ़ाई करवाने में असमर्थ थे।

अब छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने अंग्रेजी माध्यम स्कूलों के शुरूआत कर दी है जिससे गरीब एवं मध्यम परिवारों के बच्चे भी अंग्रेजी माध्यम में पढ़ाई कर अपने मां बाप के सपने सकार करेंगे। छत्तीसगढ़ राज्य बनने के बाद भाजपा प्रशासन लगातार 15 वर्षों तक रहा लेकिन उनके द्वारा इस विषय पर थोड़ा भी ध्यान नही दिया गया । पूरा ध्यान भाजपाईयों का कमीशन खोरी में था।

जिससे स्पष्ट है कि भाजपा के शासन काल मे मध्यम एवं गरीब परिवार के बच्चों के शिक्षा पर ध्यान ही नही दिया गया। वर्तमान में कांग्रेस सरकार भूपेश बघेल सरकार द्वारा इस विषय पर गहरी चिन्ता व्यक्त करते हुए ध्यान देकर अंग्रेजी माध्यम मे सरकारी स्कूल खोलने का निर्णय लिया गया और इसी सत्र से ही अंग्रेजी माध्यम की पढ़ाई की शुरूआत होने जा रही है जो कि अत्यंत ही सराहनीय है।

आप हमें फ़ेसबुकट्विटरटेलीग्राम और व्हाट्सप्प पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.