पुलिस का मानवीय रूप प्रसव पीड़ा से कराह रही महिला को खाट में उठाकर किया नदी पार अस्पताल के गेट में ही हुआ बच्चे का जन्म


कोरबा । द भारत लाइव
एक बार फिर 112 ग्राभवती महिला के लिए वरदान साबित हुई इससे कही ज्यादा अपने कर्तव्यों के प्रति सजग पुलिस के जवानों ने मानवता का परिचय देते हुए गर्भवती महिला को समय पर अस्पताल पहुचाया
यहाँ बताना लाजमी होगा कि

पुलिस के जवानों ने गर्भवती महिला को कांवर और खाट में उठा कर एक किलोमीटर नदी को पार कराया

मामला है जिले के लेमरू क्षेत्र का जहां जिसके अंतर्गत आने वाले छाता बहार की रहने वाली सुनीता बाई 20 वर्ष को प्रसव पीड़ा होने पर उसके परिजनों ने डायल 112 को सूचना दी ।

इवेंट मिलने पर क्यूआरवी टीम के साथ पुलिसकर्मी चंद्रप्रकाश और संदीप मौके के लिए रवाना हुए। पगडंडी होने की वजह से नदी से पहले गाड़ी रोकनी पड़ी। यहां से दोनों पुलिसकर्मी पदयात्रा करते हुए गांव पहुंचे ।

महिला के परिजनों के साथ गर्भवती को पहले कांवर में बैठा घर से लेकर निकले ,फिर रास्ते में खाट से उठा कर गाड़ी तक ले गए। किसी तरह परसाभाटा उप स्वास्थ्य केंद्र पहुंचे ,जहां प्रवेश द्वार पर ही महिला को प्रसव हो गया।

उसने एक स्वस्थ बच्चे को जन्म दिया है। इस कार्य को लेकर महिला के परिजनों ने डायल 112 की टीम को धन्यवाद दिया है । पुलिस की यह सेवा पहुंचविहीन इलाकों के लिए वरदान बन चुकी है.

आप हमें फ़ेसबुकट्विटरटेलीग्राम और व्हाट्सप्प पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.