मरवाही उप चुनाव भाजपा को फिर लगा करारा झटका पूर्व विधायक प्रत्याशियों ने भी थाम लिया कांग्रेस का हाथ..

संवाददाता:-प्रयास कैवर्त

मरवाही उप चुनाव को लेकर सरगर्मी जोरों शोरों से है, उपचुनाव को लेकर शंखनाद हो चुका है, विजय श्री की ताज के लिए पार्टी के आला नेताओं का प्रवास दौरा जारी है, वही उपचुनाव को लेकर लगातार भाजपा के नेताओं का कांग्रेस में जाना भाजपा के लिए चुनाव से पूर्व बड़ा झटका है, कुछ दिन पहले ही पेंड्रा नगर पंचायत के अध्यक्ष और दो पार्षदों ने कांग्रेस का दामन थामा था, अब भाजपा की 2018 की विधायक प्रत्याशी अर्चना पोर्ते, उनके पति पूर्व जिला उपाध्यक्ष शंकर कंवर और 2008 के विधायक प्रत्याशी ध्यान चंद पोर्ते ने गुरुवार को प्रभारी मंत्री जयसिंह अग्रवाल से मुलाकात कर कांग्रेस में प्रवेश कर लिया है,

आज ही भाजपा प्रत्याशी डॉक्टर गंभीर सिंह अपना नामांकन दाखिल करने आए हुए हैं जहां आज भाजपा की ओर से डॉ गंभीर सी का नामांकन भरवाने के लिए भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साय धरमलाल कौशिक नेता प्रतिपक्ष एवं पूर्व मंत्री मरवाही विधानसभा प्रभारी अमर अग्रवाल पहुंचे हुए हैं वही इन आला नेताओं के नाक के नीचे से कुछ देर के लिए गायब होने के बाद ये भाजपा नेता सीधे कांग्रेस कार्यालय पहुंच कर प्रभारी मंत्री जयसिंह अग्रवाल के समक्ष कांग्रेस की सदस्यता लेकर इन्होंने भाजपा को सकते में डाल दिया है.

.

बता दें पूर्व प्रत्याशी अर्चना पोर्ते पूर्व मंत्री डॉक्टर भंवर सिंह पोर्ते की सुपुत्री हैं, जो आदिवासियों की मसीहा माने जाते हैं , अर्चना पोर्ते लंबे समय से राजनीति में सक्रिय हैं,वही वे भाजपा प्रत्याशी के दावेदार माने जा रहे थे, वही शंकर कंवर पूर्व जिला उपाध्यक्ष युवा आदिवासियों युवाओं में अच्छी पकड़ है,

बहरहाल अब यह देखना होगा कि मरवाही उपचुनाव के ताजपोशी किस के सर पर होता है,

आप हमें फ़ेसबुकट्विटरटेलीग्राम और व्हाट्सप्प पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.