कवर्धा में अब तक कोरोना का हिसाब किताब : संक्रमित के संपर्क में आए SDM, तहसीलदार, पटवारी क्वारंटाइन

कबीरधाम जिले में फिर से कोरोना बम फूटा है। शुक्रवार की शाम को एम्स द्वारा जारी सूची में 6 कोरोना पॉजिटिव कबीरधाम जिले से है, जबकि शाम को ही 5 लोगों को स्वस्थ्य होने के बाद डिस्चार्ज किया गया था। (Coronavirus in chhattisgarh)



कवर्धा .
कबीरधाम जिले में फिर से कोरोना बम फूटा है। शुक्रवार की शाम को एम्स द्वारा जारी सूची में 6 कोरोना पॉजिटिव कबीरधाम जिले से है, जबकि शाम को ही 5 लोगों को स्वस्थ्य होने के बाद डिस्चार्ज किया गया था। स्वास्थ्य विभाग से मिली जानकारी के अनुसार कबीरधाम जिले के सभी क्वारंटाइन सेंटर से लगातार प्रवासी मजदूरों के सैम्पल लेकर रायपुर जांच के लिए भेजा रहा है। इसी दौरान शुक्रवार की शाम को पता चला कि कबीरधाम जिले के बोड़ला ब्लॉक अंतर्गत 6 और कोरोना पॉजिटिव मरीजों की पहचान हुई।

पांच मरीज ग्राम राजानवागांव और 1 मरीज खैरबनाकला के हैं। सभी लोग क्वारंटाइन सेंटर में हैं। जबकि शुक्रवार शाम को ही 5 मरीज के स्वस्थ्य होने पर उन्हें डिस्चार्ज करके कवर्धा भेजा, अब फिर से जिले में 7 एक्टिव मरीज हो चुके हैं। मुंबई से आए युवक संपर्क में आने से ग्राम पोलमी में ही पांच लोग कोरोना पॉजिटिव हो चुके थे। सभी मरीज को 22 मई की रात में ही रायपुर में भर्ती कराया था। 6 दिनों के इलाज के बाद स्वथ्य होने पर 5 को डिस्चार्ज कर दिया। सभी को ग्राम महराजपुर पहुंचे जहां से उन्हें क्वारंटाइन सेंटर में 14 दिनों के लिए भेज दिया गया।

कबीरधाम जिले में अब कुल 19 कोरोना पॉजिटिव मरीज हो चुके हैं। सबसे पहले 3 मई को रेंगाखार क्षेत्र के 3 पुरुष, 2 महिला और एक 5 साल का बच्चा कोरोना से संक्रमित मिले। इसके बादद 17 मई को ग्राम पोलमी में 1 युवक को मुंबईसे आया था और ग्राम बिरनपुर की 75 वर्षीय महिला कोरोना पॉजिटिव हुई। इसके बाद वहीं पोलमी में ही उक्त युवक के संपर्क में आए 5 अन्य लोग जिसकी पहचान 22 मई को की गई। इसमेंं अब तक 12 लोग स्वस्थ्य हो चुके हैं जिन्हें क्वारंटाइन किया गया। जो 14 दिन क्वारंटाइन में रहें उन्हें छुट्टी भी दे गई।

एसडीएम, तहसीलदार क्वारंटाइन
पोलमी में आश्रम के रसोइया भी कोरोना पॉजिटिव निकलने के बाद इनके संपर्क में आए पंडरिया एसडीएम, तहसीलदार, पटवारी सहित अन्य कर्मचारियों को भी कुकदूर के बालक आश्रम में क्वारंटाइन किया गया है। कंटेनमेंट जोन नेऊर के कन्या आश्रम में 25 और हाईस्कूल क्वारंटाइन सेंटर में 7 लोगों को रखा गया है। इसी प्रकार कंटेनमेंट जोन डालामौहा में 4, पोलमी के हाईस्कूल में 15, मिडिल स्कूल में 23, बालक आश्रम में 17 और पुटपुटा में 14 लोगों को क्वारंटाइन किया गया है।

2411 के सैम्पल लिए
कोविड-19 के जिला सर्विलेंस अधिकारी डॉ.गौरव परिहार ने बताया कि जिले से अब तक 2411 लोगों का सैम्पल जांच के लिए भेजा चुका है। इसमेंंं 2101 लोगों की रिपोर्ट आयी, जबकि 19 पॉजिटिव निकले। इसमें अब तक 12 लोगों को डिस्चार्ज किया जा चुका है, अब फिर से 7 मरीज रायपुर एम्स में भर्ती हंै। इसके साथ ही लगातार क्वारंटाइन सेंटर में प्रवासी मजदूरों को सामान्य जांच व सैम्पल लिया जा रहा है।

व्यवस्था ठीक नहीं- महाराजपुर में जहां पर ठीक होकर आए पांच मरीजों को क्वारंटाइन किया गया, वहां साफ-सफाई किए बिना ही इन्हें रखा गया। व्यवस्था ठीक नहीं होने पर लोगों ने साफ की बात कहीं तो वहां व्यवस्था में लोगों ने धमका दिया। वहीं कहा गया जो व्यवस्था उसी के अनुरूप रहें।

आप हमें फ़ेसबुकट्विटरटेलीग्राम और व्हाट्सप्प पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.