देश में बढ़ता कोरोना संक्रमण केंद्र सरकार की नाकामी,जब ताली-थाली बजवाकर एकजुटता का श्रेय ले रहे,तो लाखो मज़दूरों के हज़ारो किलोमीटर पैदल सड़को पर जाने की भी ले ज़िम्मेदारी- बघेल


छत्तीसगढ़ प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कोरोना के बढ़ते संक्रमण के लिए केंद्र सरकार के गलत निर्णय को ज़िम्मेदार ठहराया है | बघेल ने कहा की यह केंद्र सरकार की नाकामी ही है जिसके चलते सभी का जीवन बर्बाद हो रहा है |

बघेल ने कहा की माननीय राहुल गाँधी जी ने मज़दूरों के हित में सोचते हुए सभी मज़दूरों के बैंक खातों में 7500 जमा करने केंद्र सरकार को इशारा किया था जिससे मज़दूर पलायन करने मज़बूर नहीं होते , जहाँ थे वही रुक अपना जीवन यापन करते | भूपेश बघेल ने आगे कहा की राहुल गाँधी के मज़दूरों से मिलने पर केंद्र सरकार इतना तिलमिला गयी है की वित्त मंत्री सीतारमण ने राहुल जी का मज़दूरों से मिलना समय बर्बाद करना कहा है जबकि उनको खुद शर्म
आना चाहिए की उन्होंने मज़दूरों का जीवन नर्क बना दिया है |

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा की केंद्र सरकार जब ताली-थाली बजवाकर एकजुटता का श्रेय ले रहे है तो लाखो मज़दूरों के हज़ारो किलोमीटर पैदल सड़को पर जाने की भी ज़िम्मेदारी केंद्र सरकार को लेनी चाहिए | केंद्र सरकार के गलत फैसले से लाखो श्रमिक मज़बूर हो गए है व कई व्यक्तियों की पलायन के दौरान मौत हो चुकी है | बघेल ने बताया की कर्णाटक, जम्मू कश्मीर, उत्तर प्रदेश सरकार से अब तक उनके राज्य के श्रमिकों को वापस बुलवाने के लिए उचित व्यवस्था पर जवाब नहीं मिला है | छत्तीसगढ़ सरकार निरंतर राज्य में आ रहे प्रवासी मज़दूरों के लिए भोजन , वाहन ,चप्पल-जूतों की व्यवस्था कर रही है,

ये सभी मज़दूर गुजरात से महाराष्ट्र होते हुए छत्तीसगढ़ आ रहे है परंतु छत्तीसगढ़ प्रदेश के नहीं है बल्कि सभी ओडिसा, झारखण्ड,बिहार, मध्यप्रदेश के रहवासी है जहाँ अधिकतर राज्यों में भारतीय जनता पार्टी की सरकार है फिर भी केंद्र पर बैठी भाजपा की सरकार अहम व सही फैसले नहीं ले पा रही है |

आप हमें फ़ेसबुकट्विटरटेलीग्राम और व्हाट्सप्प पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.