विस अध्यक्ष डॉ. चरणदास महंत ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग पर जांजगीर-चांपा जिले के हजारों मजदूरों के प्रदेश वापसी पर दिया जोर


रायपुर।
जांजगीरा-चाम्पा जिले के विकास कार्यों की प्रगति पर केन्द्रित विडियो कॉन्फे्रसिंग के माध्यम से आवश्यक बैठक सम्पन्न हुई, इस बैठक में विधानसभा अध्यक्ष डॉ. चरणदास महंत, पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री तथा जिले के प्रभारी मंत्री टी.एस. सिंहदेव एवं जिला के कलेक्टर तथा जिले के समस्त विधायकगण भी सम्मिलित हुए साथ ही अन्य विभागों के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित रहे। बैठक में कोविड-19 का कोई भी संक्रमित दर्ज नहीं होने को जिले के लिए उपलब्धि कहा गया।

इस महत्वपूर्ण बैठक जिले में लॉकडाऊन के प्रभाव की समीक्षा की गई, विधान सभा अध्यक्ष ने प्रदेश के विभिन्न जिलों और अन्य राज्यों से लॉकडाऊन अवधि में किसी भी माध्यम से अपने गांव पहुंचने वाले मजदूरों की संख्या चिन्हाकन पर जोर देते हुए, यह अपेक्षा की कि प्रशासन जिले के प्रत्येक जरूरतमंद जनों तक राज्य सरकार की महत्वपूर्ण योजनाओं का लाभ पहुंचाने के लिए पूर्ण समर्पण के साथ अपने सेवाएं सुनिश्चित, निरंतर करता रहेगा एवं प्रशासन इस बात के लिए विशेष प्रयास करे कि विकास कार्यों के माध्यम से ग्रामीणजनों को सतत रोजगार मिलता रहे।

उक्त बैठक में विस् अध्यक्ष डॉ चरणदास महंत ने हॉट बाजार, मवेशी बाजार और अन्य ग्रामीण पृष्ठ भूमि के व्यापार को संरक्षण दिये जाने पर जोर देते हुए कहा कि,भीड़ के स्थानों पर कोरोना संक्रमण के नियंत्रण के निदेर्शों और उपायों को गंभीरता से पालन करें एवं उन सभी संभावनाओं पर ध्यान दिया जावे जिससे ग्रामीणजनों को अधिक से अधिक रोजगार उपलब्ध हो सके।

डॉ. महंत ने जिले में खाद्यान का वितरण और अधिक से अधिक राशन-कार्ड बनाये जाने हेतु कलेक्टर जांजगीर-चाम्पा को निर्देश दिये साथ ही जिलाधीश को विधानसभा अध्यक्ष एवं प्रभारी मंत्री टी.एस. सिंहदेव ने यह विशेषरूप से निर्देश दिया कि जिले से जम्मू-कश्मीर एवं अन्य राज्यों में गये प्रवासी मजदूरों की संख्या प्राप्त कर उसे शीघ्र अति शीघ्र पंजीकृत किया जावे एवं उनकी सुरक्षित, ससम्मान वापसी हेतु राज्य एवं केन्द्रीय नोडल अधिकारियों से समन्वय स्थापित कर मजदूरों की वापसी सुनिश्चित की जाए।

आप हमें फ़ेसबुकट्विटरटेलीग्राम और व्हाट्सप्प पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.