छत्तीसगढ़ से भी जुड़ी हुई है पूर्व राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी की यादें, रायपुर में नवीन पासपोर्ट कार्यालय का किया था उद्घाटन

रायपुर। पूर्व राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी की यादें छत्तीसगढ़ से भी जुड़ी हुई हैं। उन्होंने वर्ष 2007 में विदेश मंत्री रहते हुए राजधानी रायपुर में नवीन पासपोर्ट कार्यालय का उद्घाटन किया। राष्ट्रपति के पद पर रहते हुए वर्ष 2012 में 6 और 7 नवम्बर 2012 को दो दिवसीय यात्रा के दौरान राज्योत्सव कार्यक्रम में शामिल होने के साथ ही उन्होंने नए मंत्रालय परिसर का उद्घाटन, स्वामी विवेकानन्द हवाई अड्डा रायपुर में नए एकीकृत टर्मिनल भवन का उद्घाटन किया |

 

 

पूर्व राष्ट्रपति मुखर्जी अपनी इस यात्रा के दौरान छत्तीसगढ़ के आदिवासी बहुल जिला नारायणपुर में जनजाति कल्याण विभाग के 500 सीटर छात्रावास और रामकृष्ण मिशन आश्रम के औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान के भवन की आधारशिला रखी। पूर्व राष्ट्रपति मुखर्जी 26 जुलाई 2014 को पंडित रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय रायपुर के स्वर्ण जयंती दीक्षांत समारोह और 17 अप्रैल 2015 को भारतीय प्रबंधन संस्थान (आईआईएम) रायपुर के चतुर्थ दीक्षांत समारोह में भी शामिल हुए थे।

 

सीएम भूपेश बघेल ने जताया शोक

 

 

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने पूर्व राष्ट्रपति भारत रत्न प्रणब मुखर्जी के निधन पर गहरा शोक जताते हुए इसे राष्ट्र के लिए अपूरनीय क्षति बताया और इस दुख की घड़ी में परिवारजनों के प्रति संवेदना प्रकट की है। उन्होंने अपने शोक सन्देश में कहा है कि प्रणब मुखर्जी ने अपने लंबे राजनैतिक जीवन में देश की उन्नति और समाज के हर वर्ग के हित के लिए कार्य करते हुए अपना अभूतपूर्व योगदान दिया। उनका निधन राष्ट्रीय क्षति है, इस कमी को कभी पूरा नहीं किया जा सकेगा।

 

 

पूर्व राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी जी का निधन देश के लिए अपूरणीय क्षति 

 

 

भारत के पूर्व राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी के निधन पर गहरा दुख व्यक्त करते हुए एआईसीसी के छत्तीसगढ़ प्रभारी पी.एल. पुनिया, एआईसीसी के छत्तीसगढ़ प्रभारी सचिव डॉ. चंदन यादव और प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष मोहन मरकाम ने कहा है कि पूर्व राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी जी के निधन का समाचार अत्यंत दुखद एवं हृदयविदारक है। यह देश की अपूरणीय क्षति है। कांग्रेस परिवार दिवंगत आत्मा की शांति के लिये भगवान से प्रार्थना करता है तथा यह भी कामना करता है कि शोक संतप्त मुखर्जी परिवार को इस अपार दुख को सहन करने की शक्ति भगवान प्रदान करे। देश के राष्ट्रपति के रूप में प्रणव मुखर्जी जी की सेवाओं को स्मरण करते हुए प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने श्रद्धासुमन अर्पित किये हैं और कहा है कि पूर्व राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी का निधन देश के लिए अपूरणीय क्षति है।

आप हमें फ़ेसबुकट्विटरटेलीग्राम और व्हाट्सप्प पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.