लॉकडाउन के कारण 10 साल पहले अपने परिवार से बिछड़ा मूक-बधिर युवक अपने परिजन से मिला

10 साल पहले परिवार से बिछड़ा एक मूक-बाधिर युवक अपने परिजनों से लॉकडाउन के कारण मिल पाया है। दरअसल, महाराष्ट्र से आए मज़दूरों की मध्य प्रदेश में स्क्रीनिंग के समय मूक-बाधिर युवक ने कागज़ पर उपनाम ‘उरावे’ लिखा, इसके बाद अधिकारियों ने उसका फोटो वॉट्सऐप पर कई जगह भेजा, जिसके बाद छत्तीसगढ़ के पुलिसकर्मी ने उसके परिजनों की सूचना दी।

आप हमें फ़ेसबुकट्विटरटेलीग्राम और व्हाट्सप्प पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.