बड़ी खबर : PLAY STORE और APP STORE से हटाई गई TikTok APP, चीनी ऐप्स को भारी नुकसान, अरबों की होती थी कमाई


नई दिल्ली।
सरकार की ओर से प्रतिबंध लगने के बाद गूगल प्ले स्टोर और एप्पल के ऐप स्टोर से भी टिकटॉक ऐप को हटा दिया गया है। सरकार ने सोमवार शाम टिकटॉक, हेलो समेत 59 चीनी मोबाइल ऐप पर प्रतिबंध लगा दिया था। हालांकि, जिन यूजर्स ने टिकटॉक ऐप को डाउनलोड किया हुआ है, वह ऐप पर वीडियो पोस्ट कर सकेंगे। लेकिन, अब कोई नया यूजर इस वीडियो ऐप को डाउनलोड नहीं कर सकेगा।

देश में टिकटॉक के 20 करोड़ से अधिक यूजर्स हैं और यह ऐप गूगल प्ले स्टोर और एप्पल के ऐप स्टोर के टॉप 10 ऐप्स में से एक हैं। वहीं, सरकार द्वारा प्रतिबंधित की गईं अन्य ऐप में से ज्यादातर ऐप अभी भी प्ले स्टोर और ऐप स्टोर पर उपलब्ध हैं। ऐसे में माना जा रहा है कि आने वाले कुछ समय में इन ऐप्स को भी दोनों ही जगह से हटा दिया जाएगा, जिसके बाद कोई भी यूजर डाउनलोड नहीं कर सकेगा।

प्रतिबंध लगाए जाने के बाद टिकटॉक ने बयान जारी कर कहा कि उसने चीनी सरकार समेत किसी भी विदेशी सरकार के साथ यूजर्स का डाटा साझा नहीं किया है और न ही भविष्य में वह ऐसा करेगी। टिकटॉक ने कहा, ‘हमें जवाब देने और स्पष्टीकरण प्रस्तुत करने के लिए संबंधित सरकारी हितधारकों के साथ मिलने के लिए आमंत्रित किया गया है। टिकटॉक भारतीय कानून के तहत सभी डाटा गोपनीयता और सुरक्षा आवश्यकताओं का पालन करता है। हम हमारे यूजर्स की किसी भी जानकारी को किसी भी विदेशी सरकार के साथ साझा नहीं करते हैं, जिसमें चीनी सरकार भी शामिल है।’

सरकार ने सोमवार को चाइनीज ऐप्स पर बैन लगाते हुए कहा है कि ये ऐप देश की संप्रभुता, अखंडता और राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए हानिकारक हैं। यह प्रतिबंध लद्दाख क्षेत्र में वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) पर चीनी सैनिकों के साथ मौजूदा तनावपूर्ण स्थितियों के बीच लगाया गया है।

आईटी मंत्रालय ने सोमवार को जारी एक आधिकारिक बयान में कहा कि उसे विभिन्न स्रोतों से कई शिकायतें मिली हैं, जिनमें एंड्रॉइड और आईओएस प्लेटफॉर्म पर उपलब्ध कुछ मोबाइल ऐप के दुरुपयोग के बारे में कई रिपोर्ट शामिल हैं। इन रिपोर्ट में कहा गया है कि ये एप उपयोगकर्ताओं के डेटा को चुराकर, उन्हें गुपचुक तरीके से भारत के बाहर स्थित सर्वर को भेजते हैं।

आप हमें फ़ेसबुकट्विटरटेलीग्राम और व्हाट्सप्प पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.